मोबाइल गेम पब्जी (PUBG) को लेकर अयातुल्लाह सिस्तानी से पुछा गया सवाल, दिया यह जवाब

Share This News

हाल ही में मरजा ए मोहतरम अयातुल्लाह सैय्यद अली सिस्तानी साहब के ऑफिस से इलेक्ट्रॉनिक गेम के सिलसिले में किया गए सवालात के जवाब सामने आये थे।

इन सवालों में आज कल आम हो रहे मोबाइल गेम पब्जी (PUBG) को लेकर भी सवाल किया गया था। जिसपर अयातुल्लाह सिस्तानी साहब ने जवाब दिया है।

इमाम हुसैन (अस) के रौज़े की अधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, इलेक्ट्रॉनिक गेम को लेकर कई सवाल किये गए थे जिसमें एक सवाल PUBG को लेकर भी किया गया था। यह सवाल व जवाब 01 दिसम्बर 2018 को वेबसाइट पर डाला गया था।

सवाल किया गया कि आज कल एक नया गेम लांच हुआ है जिसका नाम पब्जी (PUBG) है और यह ऐसा जंगी गेम है जो कंप्यूटर और मोबाइल पर खेला जा सकता है। इसको जवान लड़के और यहाँ तक लड़कियां भी लम्बे समय तक खेलते हैं और कभी कभी खेलते खेलते सुबह हो जाती है, यह ग्रुप गेम जैसा है।

अब असल सवाल यह है कि ऐसे गेम का खेलना शरियत की निगाह में कैसा है?

वेबसाइट के अनुसार: अयातुल्लाह की जानिब से गेम खेलने के सिलसिले में न तो हाँ कहा गया है और न मना किया है। आप इसमें किसी और मर्जा की तरफ रुजू कर सकते हैं।

हाँ खुद यह गेम या इस जैसे गेम खेलने के सिलसिले में इतना ज़रूर है की अगर शरई वाजिबात इन गेम्स की वजह से डिस्टर्ब हो रहा हो (जैसे वाजिब नमाज़ अपने वक़्त पर अदा न हो पा रही हो) या गमेर को ऐसे रस्ते पर ले जा रही हो जिससे दूसरों से दुश्मनी पैदा हो या इस जैसे किसी और खुराफात में पड़ने का डर हो तो इससे दूर रहना ज़रूरी है।

पब्जी (PUBG) गेम की बात करें तो इस वक़्त इसे पूरी दुनिया में नौजवान लड़के और लड़कियां खेल रहे हैं। यह गेम इस वक़्त दुनिया का सबसे ज़यादा खेला जाने वाला गेम बन चूका है। ऐसे में नौजवान अपना ज़यादा वक़्त इस गेम में दे रहे हैं।

Source: www.imamhussain.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *