अज़ादारी रोड अब हुसैनाबाद ट्रस्ट के हाँथ में नही, सरकार का इसपर कब्ज़ा है: मौलाना कल्बे जवाद

Share This News

वक्फ सम्पत्ति में जारी धांधलियों और हुसैनाबाद ट्रस्ट की बर्बादी पर कड़ा रुख अपनाते हुए इमामे जुमा मौलाना सैयद कल्बे जवाद नकवी ने आज अपने बयान में कहा कि लोग छोटे छोटे पद और निजी फायदों के लिये अपने दीन और अकीदे का सौदा कर रहे हैं,ये निंदनीय है।

मौलाना ने कहा कि हुसैनाबाद ट्रस्ट की बर्बादी पर रॉयल फैमिली के लोग आगे क्यों नही आ रहे हैं,उलेमा भी चुप हैं। कल जो लोग वक्फ हुसैनाबाद की सड़क को अज़ादारी रोड बनवा कर गर्व के साथ फोटो खिंचवा रहे थे आज वो पत्थर मौजूद नही है मगर उन लोगो की तरफ से अब तक कोई प्रतिक्रिया नही आई ये आश्चर्यजनक है।

मौलाना ने कहा कि रॉयल फैमिली के लोगों ने अदालत मंे ये लिखित बयान दिया है , जिसकी कॉपी मेरे पास मौजूद है , कि हुसैनाबाद ट्रस्ट का सब से अच्छा इंतेजाम डी0एम0 ही कर सकता है। उन्हें न अपने खानदान का कोई नजर आया न किसी आलिम का नाम पेश किया गया।

मौलाना ने कहा कि जिस वक्त कुछ लोगों ने सरकार से इमामबाड़े की सड़क का नाम अज़ादारी रोड करने की मांग की थी, हमने उसी वक्त कहा था कि ये मांग सरकार से नही बल्कि ट्रस्ट प्रशासन से की जानी चाहिए क्योंकि ये सड़क वक्फ की है। प्रशासन के लोगो ने हमें बताया कि जब उन्होंने इस मांग के बाद रिकॉर्ड देखा तो पता चला कि ये सड़क तो वक्फ हुसैनाबाद की है, हम ने आप के बड़े बड़े उलेमा के कहने पर इस रोड को एकवायर कर लिया इसके बाद इस सड़क का नाम सरकार की तरफ से अज़ादारी रोड किया गया था। पता चला कि मकसद अजादारी रोड नाम रखवाना नही था बल्कि वक्फ की सड़क को सरकार को सौंपना मकसद था। अब इस सड़क पर सरकार का कब्जा हो गया है, अब ये सड़क हुसैनाबाद ट्रस्ट के हाथों से निकल गयी है।

मौलाना ने इमामबाड़ों में अर्ध्वस्त्र में पर्यटकों की आवाजाही पर भी ट्रस्ट प्रबंधन की निंदा करते हुए कहा कि इमामबाड़े के स्टाफ ने बताया कि जब वो पर्यटकों को अदब एवं तहज़ीब के साथ आने के लिए कहते हैं तो अब पर्यटक ये जवाब देते हैं कि ये इंटरटेनमेंट की जगह है इस लिए वो जिस तरह आ रहे हैं उसी तरह आएंगे।

मौलाना ने रॉयल फैमिली के लोगो को मुतव्वजह करते हुए कहा कि उन्हें हुसैनाबाद ट्रस्ट और वक्फ सम्पत्ति के बचाओ के लिए आगे आना चाहिये अगर वो वक्फ सम्पत्ति के लिए एहतेजाज करेंगे तो हम भी उनके सीना सिपर होंगे। अगर वो सच मे रॉयल फैमिली के लोग हैं तो उन्हें वकफ हुसैनाबाद की बर्बादी पर चुप नही रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *