बिना मेहरम पुरुष के 20 महिला हज यात्री 4 महिला खादिमुल हुज्जाज के साथ रवाना

Share This News

राजधानी लखनऊ से शनिवार को पहली बार बिना मेहरम साथी के 20 महिला हज यात्रियों के साथ ही 4 महिला खादिमुल हुज्जाज हज यात्रा के लिए मदीने रवाना हुई। इसी के साथ रविवार देर रात 12 बजे राजधानी लखनऊ से हज यात्रियों की आखिरी उड़ान 267 हज यात्रियों को लेकर मदीने रवाना हुई।

रविवार सुबह रवाना हुई उड़ान के साथ ही बीती 14 जुलाई से आरम्भ हुआ हज यात्रियों की उड़ानों का सिलसिला थम गया। राजधानी लखनऊ से प्रदेश के विभिन्न जनपदों के कुल 14,356 हज यात्री हज के लिए सऊदी अरब रवाना हुए। शनिवार को चार उड़ानों से कुल 1199 हज यात्री मदीने रवाना हुए।

शनिवार का दिन सरोजनी नगर स्थित मौलाना अली मियां मेमोरियल हज हाउस में ठहरे हज यात्रियों के लिए एक तरह से यादगार हो गया। शनिवार को हज नीति में बदलाव के बाद पहली बार बिना मेहरम पुरुष हज यात्रा के लिए रवाना 5 गु्रप की 20 महिलाओं को रवाना किया गया। इसी के साथ पहली बार खादिमुल हुज्जाज के तौर पर 4 महिलाओं को भी हज यात्रियों की सहायता के लिए सऊदी अरब भेजा गया। महिला खादिमुल हुज्जाज को हज हाउस में बने स्टेज पर बैठा कर उनका सम्मान किया गया।

हज यात्रियों की सहायता के लिए रवाना होने वाली महिला खादिमुल हुज्जाज में राजधानी लखनऊ की जमीला खातून और सुमैरा सहित बाराबंकी कमाल फातिमा और सीतापुर जिले की नूर अख्तर दोपहर 12 बजे की उड़ान से रवाना हुई। इसी उड़ान से बिना मेहरम पुरुष हज यात्रा के लिए 5 गु्रप की 20 महिलाओं को भी रवाना किया गया। दोपहर 12 बजे रवाना हुई उड़ान से कुल 299 हज यात्री रवाना हुए, जिसमें 148 पुरुष और 151 महिलाएं शामिल थे। इस उड़ान से सबसे अधिक 117 हज यात्री गोरखपुर और 78 मऊ के रवाना हुए।

शनिवार को पहली उड़ान सुबह 12 बजे 300 हज यात्रियों को लेकर रवाना हुई। इस उड़ान से 155 पुरुष और 145 महिलाएं रवाना हुई। उड़ान से पीलीभीत के 141 और इलाहाबाद के 58 हज यात्रियों सहित कुल 300 हज यात्री रवाना हुए। लखनऊ के फैजी फरहान को इस उड़ान से हज यात्रियों की सहायता के लिए भेजा गया। दूसरी उड़ान सुबह 4:05 बजे 300 हज यात्रियों को लेकर रवाना हुई, जिसमें 154 पुरुष और 146 महिलाएं शामिल थे। इस उड़ान से गोरखपुर के 134 और इलाहाबाद के 114 हज यात्री भी रवाना हुए। वहीं शनिवार की चौथी उड़ान शाम 7:30 बजे रवाना हुई, जिससे 160 पुरुष और 140 महिलाओं को रवाना किया गया। इस उड़ान से महाराजगंज के 163 और इलाहाबाद के 42 हज यात्री रवाना हुए। उड़ान से हज यात्रियों की सहायता के लिए लखनऊ के अहमद हुसैन और फजल अली भी रवाना हुए।

रविवार देर रात 12 बजे रवाना होने वाली हज यात्रियों की आखिरी उड़ान से कुल 267 हज यात्री रवाना होंगे, जिसमें 140 पुरुष और 127 महिलाएं शामिल हैं। इस उड़ान से हज कमेटी के कर्मचारी व बारह खादिमुल हुज्जाज भी हज यात्रियों की सहायता के लिए सऊदी अरब रवाना होंगे। राज्य हज समिति के मुताबिक रविवार सुबह 3:20 बजे रवाना होने दूसरी उड़ान संख्या एसवी 5914 को यात्री न होने की वजह से निरस्त कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *