कानून का दुरुपयोग करने वालों पर सख्त कार्यवाही होगी तो निर्भया, आसिफा और उन्नाव जैसे घिनौने अपराध रुकेंगे

Share This News

संविधान रचियता डा0 भीमराव आम्बेडकर साहब की जयंती पर अल-इमाम-वेलफेयर एशोसिएशन (आल इण्डिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान हसन सिद्दीकी साहब ने हजरतगंज चैराहे स्थित बाबा साहब की प्रतिमा पर पहुॅच कर उनको याद किया

उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए लोगों को सम्बोधित किया कि अगर हमे बाबा साहब को अमर रखना है तो हमें उनके विचारों पर पूरी तरह अमल करना होगा।

उन्होंने कहा कि बाबा साहब द्वारा लिखे कानून को हमें सही ढंग से लागू करने के साथ-साथ उस कानून का लाभ समाज के प्रत्येक वर्ग तक पहुॅचाना होगा। तभी जाकर सही मायने में हम बाबा साहब द्वारा देखे गये सपनों को साकार कर सकेंगे। क्योंकि उनके द्वारा लिखे कानून में हर वर्ग और समुदाय के लिये बराबर का स्थान है।

इमाम साहब ने कहा कि परन्तु आज देश में ऐसा प्रतीत होता है कि देश में दो कानून हैं एक कानून गरीबों और बेसहाराओं के लिये और दूसरा अमीरों व उच्च वर्गीय लोगों के लिये। मेरा यह मानना है कि संविधान की शपथ लेकर उच्च पदों पर बैठकर धर्म, जातिपाति के आधार पर भेदभाव कर कानून का दुरूपयोग करने वालों को तुरन्त उनके पदों से निष्कासित किया जाए ताकि यह लोगों के लिये उदाहरण बन सके और उस स्थानों पर देश के नौजवान युवाओं को मौका मिले। ताकि ये युवा देश की सेवा पूरी ईमानदारी व लगन के साथ कर सकें। ताकि निर्भया, आसिफा और उन्नाव जैसे घिनौने अपराध न हो सके क्योंकि आम जनता की सुरक्षा सरकार की जिम्मेदारी है और इस तरह के अपराध करने वालों और उनको संरक्षण देने वालों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए। यदि सरकार ऐसा करने में असमर्थ है तो ऐसी सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *