लब्बैक अल्लाह हुम्मा लब्बैक की सदा के साथ लखनऊ से रवाना हुए आज़मीने हज

Share This News

लब्बैक अल्लाह हुम्मा लब्बैक की सदा और हाथों में अपने मुल्क के झंडे के साथ आज़मीने हज का पहला काफिला आज हज हाउस से रवाना हुआ इन आज़मीने हज को रुखसत करने के लिए हज हाउस राज्य मंत्री मोहसिन रज़ा और मंत्री बलदेव सिंह ओळख के साथ ही मौलाना खालिद रशीद फिरंगमहली और मौलाना सूफियान निज़ामी , मर्कज़ी हज कमेटी के सदस्य फ़िरोज़ा बानो , मोहम्मद अशरफ , सचिव हज आर पी सिंह , जावेद आदि मौजूद थे।

रवानगी से पहले मंत्री मोहसिन रज़ा ने सम्बोधित करते हुए अपने आपको जनता का सेवक बताते हुए कहा कि पहले बादशहत होती बादशाह अपने वज़ीर रखते थे लेकिन अब जम्हूरी निज़ाम है। आप लोग बादशाह हैं और हम आपके वज़ीर।

मोहसिन रज़ा ने आज़मीने हज से अपील की कि वह वहां जाकर अपने मुल्क की तरक़्क़े और अमन की दुआ करें। उनहोंने कहा कि वतन की मोहब्बत इमान की निशानी है।

मोहसिन रज़ा ने कहा कि इस साल पिछले साल से अच्छी सुविधा दी जा रही है। केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार आज़मीने हज को अच्छी सेवा दे रही है।

उन्होने मुख्यमंत्री के खिलाफ बोलने वालों को जवाब देते हुए कहा कि कुछ लोग सीएम् को लेकर प्रोपगंडा कर रहे हैं यह वही लोग हैं जो कुछ नहीं कर सके जनता सब जानती है चार साल की केंद्र सरकार और एक साल से ज़्यादा की प्रदेश सरकार के कामों के बारे में सब जानते हैं। पूरे देश से जाने वाले हज यात्रियों की सुरक्षा, सेवा आदि की ज़िम्मेदारी बखूबी निभायी जा रही है।

इससे पूर्व मोहसिन रज़ा ने आज़मीने हज को गुलाब और राष्ट्रिय झंडा देकर उनको सफर की मुबारकबाद दी और कई से गले मिलकर तो कई से हाथ मिलाकर दुआ की अपील की।

मौलाना खालिद रशीद फिरंगीमहली ने आज़मीने हज को मुबारकबाद देते हुए उनको हज की फ़ज़ीलत बताई उन्होने कहा कि आप लोग अल्लाह के मेहमान बनकर जा रहे हैं वहां ज़्यादा से ज़्यादा वक़्त इबादत में गुज़ारे और अपने मुल्क की तरक़्क़ी , अमन और अपने परिवार के लोगों के लिए दुआ करें मौलाना ने कहा कि हज की सआदत का बहुत सवाब है।

आज़मीने हज के चेहरे पर इस मुकद्द्स सफर की ख़ुशी साफ़ नज़र आरही थी नम आँखों में हज के सफसर की चमक थी अपने रिश्तेदारों से गले मिलते आज़मीने हज की आँखों में ख़ुशी के आंसूं साफ़ नज़र आरहे थे।

बात करने पर कई लोगों ने कहा की हज के सफर की शुरूआत से ही उनकी दुआ तो आज ही पूरी हो गयी। पहली परवाज़ दोपहर 12 बजे 300 आज़मीने हज को लेकर रवाना हुई जिसमे 155 मर्द और 145 ख्वातीन आज़मीने हज थे।

सऊदी एयरलाइन के शहीर ने बताया की सभी आज़मीने हज को वक़्त पर एयरलाइन्स की तरफ से साड़ी सुविधाएँ दी जारही हैं। उन्होने बताया कि बुज़ुर्ग यात्रिओं के लिए भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है व्हील चेयर आदि भी यात्रिओं को आसानी से मिल जाय इसका भी ध्यान रक्खा जा रहा है।

बी एम् सी बैंक के ब्रांच मैनेजर अनवार ने बताया की बैंक की तरफ से इस बात का ख़ास ख्याल रक्खा जा रहा है की किसी भी हज यात्री को करेंसी मिलने या बदलने में कोई दिक्कत न आये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...