लखनऊ में इस वर्ष भी शुरू हुई ‘दीन और हम’ की क्लासेज

Share This News

शहर लखनऊ में पिछले 6 वर्षों की लगातार सफलता के बाद ऐनुल हयात ट्रस्ट ने इस वर्ष भी युवाओं के लिए धार्मिक कोर्स “दीन और हम” के शीर्षक से कक्षाएं आयोजित कर रहा हैं। इस वर्ष यह कक्षाएं शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में छः अलग-अलग जगहों पर आयोजित हुई हैं।

“लेवल-1” के शीर्षक से तीन स्थानों पर क्लासेज़ आयोजित हो रही हैं, इसमें 114 छात्राओं और 75 छात्रों ने एनरोलमेंट हुए हैं, दरगाह हज़रतअब्बास (अ0) रोड पर स्थित “मिलन मैरिज हॉल”में मौलाना सैयद अदील असग़र काज़मी व्याख्यान दे रहे हैं, जिस में 105 छात्राओं और 32 छात्रों ने एनरोलमेंट करा हैं, एवं अकबरी गेट स्थित “गोल्डेन पैलेस” में मौलाना फसाहत हुसैन व्याख्यान दे रहे हैं, जिस में 50 छात्राओं और 24 छात्रों ने एनरोलमेंट करा हैं।

“लेवल-2” के शीर्षक से दो स्थानों पर क्लासेज़ आयोजित हुई हैं, जिसमें दरगाह हज़रतअब्बास (अ0) रोड पर स्थित “नायब पैलेस” में मौलाना अक़ील अब्बास मुरुफी याख्यान दे रहे हैं, जिस में 74 छात्राओं और 21 छात्रों ने एनरोलमेंट करा हैं एवं “अलमास मैरिज हॉल”, नेपियर रोड, हुसैनाबाद जिस में मौलाना अली अमीर याख्यान दे रहे हैं, जिस में 52 छात्राओं और 35 छात्रों ने एनरोलमेंट करा हैं।

इसके साथ ही “लेवल-3” के शीर्षक से अकबरी गेट स्थित “गोल्डेन पैलेस” जिस में मौलाना अली अब्बास खान व्याख्यान दे रहे हैं, जिस में 74 छात्राओं और 43 छात्रों ने एनरोलमेंट करा हैं। यह सभी कक्षाएं 15 मई 2018 से प्रति दिन शाम 8.30 बजे हो रही हैं। “दीन और हम” के शीर्षक से कक्षाएं में 699 एनरोलमेंट हुए हैं।

दीन और हम के प्रवक्ता हसन रिज़वी ने बताया कि, प्रोग्राम के नियमनुसार 90 प्रतिशत से ज़्यादा अटेंडेंस वालो को एग्जाम में शिरकत की इजाज़त दी जाएगी। प्रोग्राम में हिस्सा लेने वाले छात्रों को सर्टिफिकेट दिया जाएगा, बेहतरीन क़ुरान की तिलावत करने वालो को भी पुरस्कार दिया जाएगा, इस्लामिक हिजाब की पाबन्दी करने वाले छात्रों को भी पुरस्कार दिया जाएगा, बेहतरीन नोटबुक बनाने वाले छात्रों को भी पुरस्कार दिया जाएगा, 100% अटेंडेंस वाले छात्रों को पुरस्कार दिया जाएगा, 80 % से ज़्यादा नंबर प्राप्त करने वाले छात्रों को भी पुरस्कार दिया जाएगा और आखिर में टॉपर्स स्टूडेंस को पुरस्कार दिया जाएगा।

यह प्रोग्राम ऐनुल हयात ट्रस्ट के साथ मिल कर हैदरी एजुकेशनल एंड वेलफेयर सोसाइटी और अल- मुकम्मल कल्चरल फाउंडेशन की जानिब ने संपन्न करवाया हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *