हजरत अली के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर हुई महफिलें, अकीदतमंदों ने दिलाई नज्र

Share This News

मुसलमानों के चौथे खलीफा और शिया मुसलमानों के पहले इमाम हजरत अली के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर शनिवार को शहर के विभिन्न स्थानों पर महफिल-मीलाद और नज्र-नियाज का आयोजन किया गया।

हजरतगंज स्थित इमामबाड़ा शाहनजफ सहित कई मस्जिदों को खूबसूरत रोशनी से सजाया गया। इस मौके पर अकीदतमंदों ने शाहनजफ इमामबाड़े में जियारत कर नज्र दिलाई और दुआएं मांगी। रविवार को इमाम के जन्मदिन पर सआदतगंज के शिया यतीमखाने सहित विभिन्न इमामबाड़ों, रौजों और मस्जिदों में महफिले मकासिदा का आयोजन कर इमाम के जन्मदिन की खुशियां मनाई जाएगी।

इस मौके पर शहर की कई मस्जिदों में भी सजावट और महफिलों का आयोजन किया गया। अकीदतमंदों ने अपने घरों में भी नज्र-नियाज का आयोजन किया और एक-दूसरे को इमाम के जन्म की मुबारकबाद पेश की।

रसूले इस्लाम के चचेरे भाई, मुसलमानों के चौथे खलीफा और शिया मुसलमानों के पहले इमाम हजरत अली के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर अमीनाबाद के गुईन रोड चौराहा स्थित मस्जिद अबू जाफर में महफिले मकासिदा का आयोजन किया गया। तिलावते कलामे पाक से शुरू हुई महफिल में नायाब हल्लौरी, नौशाद हल्लौरी, शाहिद लखनवी, सज्जाद लखनवी, हैदर हुसैन सहित कई अन्य शायरों ने अपने कलाम बारगाहे इमामत में पेश किये।

महफिल को मौलाना रजा हुसैन ने खिताब करते हुए मौलाए काएनात हजरत अली के फजाएल बयान किये। महफिल का संचालन मौलाना कमर अब्बास ने किया। आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष स्वर्र्गीय मौलाना मिर्जा मोहम्मद अतहर के शाहगंज स्थित आवास पर हुई महफिल को बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना मिर्जा मोहम्मद अशफाक ने खिताब किया। इससे पहले शायरों ने अपने कलाम बारगाहे इमामत में पेश किये।

अल हुसैनी एजूकेशनल एंड वेलफेयर सोसाइटी की ओर से कश्मीरी मोहल्ला के कटरा बिजन बेग में भी महफिल का आयोजन किया गया। इसके अलावा शहर की कई मस्जिदों में भी हजरत अली के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर महफिल-मीलाद का आयोजन किया गया, जिसमें शायरों ने अपने कलाम पेश किये। महिलाओं ने भी घरों में महफिल-मीलाद का आयोजन कर हजरत अली के जन्मदिन की खुशी मनायी।

यतीमखाने में महफिल और आतिशबाजी आज

सआदतगंज स्थित शिया यतीमखाने में रविवार को आल इंडिया महफिले मकासिदा का आयोजन इदार-ए-वारिसे काबा की ओर से किया जाएगा। रात 9:30 बजे तिलावते कलामे पाक से महफिल का आगाज कारी मोहम्मद नदीम नजफी करेंगे, जिसके बाद मौलाना हमीदुल हसन तकवी महफिल को खिताब करेंगे। इस मौके पर यतीमखाने में आतिशबाजी की जाएगी। महफिल में प्रो. एैनुल हसन, आसिफ बिजनौरी, नायाब बलियावी, अख्तर सिरसिवी, मुकेश दर्पण, जितेंद्र परवाज, शहंशाह बिजनौरी, शान हैदर आजमी सहित अन्य शायर अपने कलाम पेश करेंगे। महफिल का संचालन अरशी वास्ती करेंगे और धन्यवाद ज्ञापन मौलाना जहीर अहमद इफ्तिखारी करेंगे।

महफिल में शिक्षा और सामाजिक कार्यों के लिए ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती उर्दू-अरबी-फारसी विवि के कुलपति प्रो. माहरूख मिर्जा को मौला अली एवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। वहीं हरदोई रोड के दुबग्गा स्थित हौजए इल्मिया अबू तालिब में रात 8 बजे जश्ने बाबे मदीनतुल इल्म का आयोजन किया जाएगा। तिलावते कलामे पाक शुरू होने वाली महफिल को मौलाना सुहैल अब्बास खिताब करेंगे। इससे पहले शोअरा अपने कलाम बारगाहे इमामत में अपना नजराना पेश करेंगे।

जनाबे अली असगर की लगाई सबील
अंजुमन कदीम मासूमए असगर की ओर से शनिवार को इमाम हुसैन के मासूम शहजादे जनाबे अली असगर के जन्मदिन की खुशी में सबील का आयोजन किया गया। सआदतगंज के काजमैन रोड पर लगी सबील पर मौलाना तनवीर नजफी ने नज्र दी, जिसके बाद लोगों को मिठाई और तबर्रुक बांटा गया। इस मौके पर अकीदतमंदों को शहजादए अली असगर के गहवारे की जियारत कराई गयी और अकीदतमंदों ने जियारत कर दुआएं मांगी।

नज्र-नियाज का हुआ आयोजन
हजरत अली के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर शनिवार को शहर के शिया बहुल इलाकों में अलग ही रौनक दिखायी दी। लोगों ने अपने घरों में खूबसूरत लाइटिंग से सजावट करायी और नज्र-नियाज का आयोजन किया। लोगों ने एक-दूसरे के घरों में जाकर नज्र-नियाज चखी और दुआएं मांग कर एक-दूसरे को हजरत अली के जन्मदिन की मुबारकबाद दी। पुराने लखनऊ के चौक, बजाजा, विक्टोरिया स्ट्रीट, गोलागंज, सआदतगंज, कश्मीरी मोहल्ला, रुस्तम नगर, हुसैनाबाद, मुफ्तीगंज, झाकड़बाग, सज्जादबाग, सरफराजगंज सहित अन्य इलाकों में देर रात तक लोगों ने एक-दूसरे के घर जाकर नज्र चख कर दुआएं मांगी।

हज़रत अली के जन्मदिवस के अवसर पर अमीनाबाद में मस्जिद अबू जाफ़र को लाइटों से सजाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *