सीरिया पर अमरीकी हमले की साज़िश का रूस ने किया पर्दाफ़ाश

Share This News

रूस के एक वरिष्ठ सैन्य कमान्डर ने सचेत किया है कि अमरीका विदेश समर्थित तकफ़ीरी आतंकियों को इस बात की ट्रेनिंग दे रहा है कि वे किस तरह सीरिया में केमिकल हमला करके उसकी ज़िम्मेदारी सीरियाई सेना के सिर मढ़ सकते हैं। इसे अमरीका सीरियाई सेना और इस देश की ढांचागत सुविधाओं पर हवाई हमले के बहाने के तौर पर इस्तेमाल करने की योजना रखता है।

रूस के जनरल स्टाफ़ के प्रवक्ता जनरल सिर्गेई रूड्सकोय ने शनिवार को मॉस्को में प्रेस ब्रीफ़िंग में कहा, हमारे पास इस बात की ठोस जानकारी है कि अमरीकी ट्रेनर तनफ़ क़स्बे के पास कई आतंकवादी गुटों को दक्षिणी सीरिया में केमिकल हमले सहित भड़काउ कार्यवाही की ट्रेनिंग दे रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “मार्च के शुरु में इन विध्वंसक गुटों को दरआ शहर के उस क्षेत्र में भेजा गया है जहां शांति क़ायम करने की कोशिश हो रही है। दरआ के डी-स्केलेशन ज़ोन में कथित फ़्री सीरियन आर्मी की इकाई तैनात है।”

जनरल रूड्सकोय ने कहा, ” वे श्रंख्लाबद्ध केमिकल धमाके की तय्यारी कर रहे हैं। इस घटना को सीरियाई सेना के सिर मढ़ा जाएगा। दक्षिणी शांत ज़ोन में केमिकल धमाके में इस्तेमाल होने वाले संघटक को मानवीय सहायता करने वाली कई एनजीओ के कर्मचारियों के भेस में पहले ही भेजा जा चुका है।”

रूस के इस वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने आगे बताया कि इस सुनियोजित भड़काउ कार्यवाही को पश्चिमी मीडिया चैनल व्यापक स्तर पर कवरेज देगा और फिर उसे अमरीका की अगुवाई वाला गठबंधन सीरिया पर हमले के बहाने के तौर पर इस्तेमाल करेगा।

रूस के जनरल स्टाफ़ के प्रवक्ता जनरल रूड्सकोय ने यह भी कहा कि सीरिया के उत्तरी प्रांत इद्लिब में तकफ़ीरी आतंकवादी गुट जिबहत फ़त्हुश्शाम के तत्वों द्वारा इसी तरह के एक और केमिकल हमले की तय्यारी हो रही है।

सीरियाई सेना पर केमिकल हमले का इल्ज़ाम लगाने के पीछे लक्ष्य

मॉस्को में सीरिया के राजदूत रियाज़ हद्दाद ने कहा कि पश्चिमी देशों का सीरियाई सेना पर आतंकवादी गुटों के ख़िलाफ़ केमिकल हमला करने का इल्ज़ाम लगाने के पीछे लक्ष्य, सीरियाई सेना की सफलता को रुकवाना है जो वह दिन ब दिन नए नए क्षेत्रों की आज़ादी के रूप में हासिल कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...